hindi love shayari

Chaht ki nemat

hindi love shayari :-

रुई की फाहों की तरह जिंदगी,
सांसो की तारों से धुनता रहा।।

सीखा कर मुहब्बत वो हमें चल दिये,
मैं अदद एक ख़्वाब ही बुनता रहा।।
hindi love shayari

चर्चा मुहब्बत पे उसने खूब की,
“मल्हार” चुपचाप सुनता ही रहा ।।

उसकी चाहत की नेंमत ये थी,
उसकी यादों को ही मैं चुनता रहा।।
“मल्हार”

Next

 

 

Leave a Reply

Close
Close